{रजिस्ट्रेशन फॉर्म} Jharkhand Parvasi Online Form at www.JharkhandPravasi.in Apply

Jharkhand Parvasi Majdur Nodal Officer Phone No/ Email ID: झारखण्ड मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना Rs 1000/- DBT Transfer is already done. Check Status Online. Now, Parvasi will be brought back to Jharkhand via Bus. (Special Train is approved by Central Govt.). Registration Online on CM Parvasi Movement/ Sahayata App for the Entry in Jharkhand. Nodal Officer Phone No – Get Help on Toll-free Number.

Jharkhand Pravasi Registration {Started} Online at jharkhandpravasi.in Portal

Online registration of Jharkhand Pravasi is now open at new portal for the Pravasi Majdur/ Students/ Employee or other people want to come back to Jharkhand. The online application cum registration permission is available at http://jharkhandpravasi.in/

Follow the steps: 

STEP 1: Open the website “http://jharkhandpravasi.in/”

STEP 2: It will redirect you to Google Forms.

STEP 3:झारखंड यात्रा पंजीकरण प्रपत्र केवल उन प्रवासी मजदूरों और अन्य लोगों के लिए जो झारखंड की यात्रा करना चाहते हैं
(Only for migrant laborers and others who wish to travel to Jharkhand)
* Required
मैं झारखंड जाना चाहता हूं (I wish to travel to Jharkhand) *

  •  हाँ/ Yes
  • नहीं/ No

jharkhand pravasi registration form

Registration Form: Jharkhand Pravasi (Return)

jharkhand pravasi helpline number

Jharkhand Shramik Special Train (Station, Time) Registration

4 and 5 May 2020 – Details of all Pravasi Return Express Trains, Station and Departure will be available in this section. Jharkhand is very actively bringing Migrant Workers, People to their Home.

2 May Jharkhand Pravasi Special Train Timing & Book Ticket Online – For the Ticket Booking You need to call the Nodal Adhikari Helpline or Control Room Number of State.

2 May Special Train

  • कोझिकोड, केरल to Jharkhand
  • त्रिवेंद्रम to Jharkhand
  • Kota to Dhanbad (Tonight)

jharkhand 2 may special train

Source: CM Jharkhand HemantSorenJMM

Tell your Name, Mobile Number, Family Member, Current Address and Going to which place in Jharkhand etc

Indian railway pravasi speical train news

Kota Junction to Ranchi, Lohardaga, Khunti, Gumla, Simdega, Latehar, Chatra, Hazaribagh, Seraikela-Kharsawan, Ramgarh, West Singhbhoom, Garwa, Palamu, East Singhbhoom – 1 May 2020 (9:00 PM Departure)

Source: Team Latehar

Kota Junction to Dhanbad, Bokaro, Giridh, Koderma. Dumka, Deoghar, Jamtara, Godda, Sahibganj, Pakur – 1 May 2020 (9:00 PM Departure)

Source: CM Jharkhand HemantSorenJMM

1 May 2020: A Special Pravasi Train was started from Lingampally (Station) of Telangana State and it was scheduled to Hatia Station of Jharkhand.

Similarly, Govt may ask more Special Trains from Gujarat, Karnataka, Rajasthan, Haryana, Punjab, Maharashtra, Goa, Andhra Pradesh, Tamilnadu and Uttarakhand.

For Registration and Updates of Pravasi Special Train to Jharkhand, Please call to the Nodal Officer (State Wise) Helpline & Corona Shayata Kendra Toll-free Number.

Note: Train Ticket booking is not done on the Railway Station, so don’t’ come out and follow Lockdown Rules.

Shramik Special Train for Jharkhand

झारखंड मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्र मंत्री अमित शाह से बाहर फंसे मजदूरों और छात्रों की घर वापसी में मदद मांगी थी| उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार के बिना उनकी घर वापसी संभव नहीं है

Jharkhand CM Vishesh Sahayata Latest Mobile App 1.13 version is uploaded on 29 April 2020 and last date to appy for Rs 1000/ – Sahayata is 30 April 2020. So, Download .APK App and Register yourself.

Complete Process: Jharkhand CM Parvasi Ghar Wapsi Entry

  1. नोडल अथॉरिटी की जिम्मेदारी: राज्य द्वारा गठित नोडल अफसर बेटी फंसे हुए लोगों का रजिस्ट्रेशन करेगी और पूरी प्रक्रिया की निगरानी करेगी|
  2. चर्चा कर अनुमति दें: अगर कहीं पर कोई समूह फंसा हुआ है और वह घर जाना चाहता है तो राज्य आपसी सहमति के साथ में ऊंट दे सकती है|
  3. सबकी जांच होगी:  जो भी प्रवासी अपने राज्य जाना चाहते हैं उनकी जांच होगी| जिनमें लक्षण नहीं होंगे उन्हें ही  अपने राज्य जाने की अनुमति दी जाएगी|
  4. बसों से जाएंगे: बसों को पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा| बैठने में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होगा|
  5. घर में 14 दिन रहना होगा: घर पहुंचते ही लोगों की जांच होगी| इसके बाद 14 दिन तक होम क्वॉरेंटाइन में रहना होगा

झारखंड कोरोला विशेष सहायता के तहत सभी प्रवासी लोगों को एक ₹1000 की सहायता राशि दे दी गई है| यदि आपके खाते में अभी तक जमा नहीं है तो आप  डीबीटी स्टेटस देख सकते हैं ऑनलाइन| झारखंड सरकार ने भी अभी न्यूनतम मोबाइल एप लांच की है जो कि आप डाउनलोड कर सकते हैं|

फंसे मजदूरों का डाटा तैयार है

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि विभिन्न राज्यों में फंसे लोगों का डाटा तैयार है| इसे जल्द अंतिम रूप दिया जाएगा|  दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को वापस लाने की अनुमति शर्तों के साथ मिली है| इसके लिए उन्होंने केंद्र सरकार का आभार जताया है|

झारखंड सरकार की पहल

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 15 आईएएस अधिकारियों को वैध और नोडल ऑफिसर तैनात कर दिया है| प्रधान सचिव अमरेंद्र प्रताप सिंह मुख्य नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं| सभी आईएएस अधिकारियों को बुधवार देर रात की अलग-अलग राज्यों की जिम्मेदारी सौंपी गई है| मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि फंसे हुए लोगों को वापस आने में कोई दिक्कत नहीं हो यह सुनिश्चित करें|

 कहां कितने लोग फंसे हैं झारखंड के

StateNo. of Parvasi People
गुजरात100500
महाराष्ट्र90000
तमिलनाडु45000
कर्नाटक35000
तेलंगाना26000
आंध्र प्रदेश17000
हरियाणा16000
दिल्ली12000
उत्तर प्रदेश7500
गोवा6500
उड़ीसा5000
पंजाब5000
पश्चिम बंगाल4500
मध्य प्रदेश4000
बिहार3000
छत्तीसगढ़3000
पांडिचेरी35
अंडमान35
अरुणाचल85
त्रिपुरा190
नागालैंड190
मणिपुर230
मेघालय200
चंडीगढ़300
मिजोरम550
असम700
जम्मू कश्मीर800
उत्तराखंड 700
दमन और दीव1000
सिक्किम1100
दादर और नगर हवेली300

Nodal Officer List – Jharkhand Parvasi

CM Hemant Soren has given responsibility to the below IAS Offiers. The Phone Number/ Email ID will be available on the website soon.  इन्हें सौंपी गई है राज्यों की जिम्मेदारी| The Mobile Number (WhatsApp) Toll-free number will be give to you very soon.

अधिकारी राज्य का नाम
अविनाश कुमारतमिलनाडु, मध्य
अजय कुमार सिंहकर्नाटक, असम, गोवा
हिमानी पांडेराजस्थान, दादर नगर हवेली, दमन एंड दीव, मेघालय
आराध पटनायकउत्तर प्रदेश, सिक्किम, नागालैंड
केके सोंगगुजरात, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा
राहुल पुरवारओडिशा, हिमाचल प्रदेश, भूत
अमिताभ कौशलपश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, लद्दाख
प्रदीप कुमार चौबेचंडीगढ़, जम्मू एंड कश्मीर, बिहार
के रवि कुमारमणिपुर, मिजोरम, पांडुचेरी, छत्तीसगढ़, अंडमान, लक्ष्यदीप
अमरेंद्र प्रताप सिंहमहाराष्ट्र
राहुल शर्मातेलंगाना
  विनय कुमार चौबेदिल्ली
पूजा सिंघलपंजाब
अबू बकर सिद्दीकीकेरला
प्रशांत कुमारहरियाणा

 

  • झारखंड सरकार ने राज्यों में फंसे श्रमिकों के खाते में ₹1000 पहले ही भेज चुकी है
  • बिहार सरकार ने राज्यों में फंसे श्रमिकों के खाते में एक-एक हजार रुपए भेज दिए हैं
  • यूपी सरकार ने भी मजदूरों को मुफ्त राशन और एक ₹1000 दिए| कोटा में 6000 छात्रों को भी उत्तर प्रदेश सरकार घर वापस लेकर के आई|
Jharkhand Corona Sahayata Yojana 2020Complete Details
UP Parvasi Entry RegistrationCheck Here
BIhar Parvasi Entry FormCheck Here

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x