Rajasthan Crop Loan 2020 सहकारी बैंक किसानो को ब्याज मुक्त फसली ऋण देगा

राजस्थान सहकारी बैंक लोन 2020: Rajasthan Govt. is lending Crop Loan (Kharif Fasal) to the Farmers with 0% interest charges. So, Loan Amount is Interest Free. District Wise Sahkari Bank will distribute Loan. To get the Loan, Farmer has to show verify their Land Records, Khet (Loan amount per Bigha Rate) as per approved by Govt. during the COVID-19 Lockdown.

जयपुर, 13 अप्रेल। सहकारिता मंत्री श्री उदय लाल आंजना ने बताया कि प्रदेश के 25 लाख किसानों को वर्ष 2020-21 में 16 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त अल्पकालीन फसली ऋण का वितरण किया जायेगा। उन्होंने बताया खरीफ सीजन में ऋण वितरण की शुरूआत 16 अप्रेल से शुरू की जाएगी।

सहकारी बैंक किसानो ब्याज मुक्त फसली ऋण

’खरीफ में इन जिलों में वितरित होंगे 10 हजार करोड़’

प्रबंध निदेशक एपेक्स बैंक श्री इंदरसिंह ने बताया कि खरीफ सीजन में केन्द्रीय सहकारी बैंक अल्पकालीन ऋण वितरण सदस्य कृषकों को करेगा। राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक Loan 2020.

श्रीगंगानगर700 करोड़ रुपये
हनुमानगढ़630 करोड़ रुपये
बाड़मेर600 करोड़ रुपये
जयपुर570 करोड़ रुपये
पाली500 करोड़ रुपये
सीकर470 करोड़ रुपये
जोधपुर एवं चित्तौड़गढ़460-460 करोड़ रुपये
जालोर450 करोड़ रुपये
भीलवाड़ा430 करोड़ रुपये
झालावाड़410 करोड़ रुपये
झुन्झुनूं350 करोड़ रुपये
नागौर एवं कोटा340-340 करोड़ रुपये
अलवर330 करोड़ रुपये
अजमेर310 करोड़ रुपये
भरतपुर300 करोड़ रुपये
सवाईमाधोपुर290 करोड़ रुपये
बीकानेर एवं चुरू240-240 करोड़ रुपये,
दौसा, उदयपुर एवं बूंदी220-220 करोड़ रुपये
बारां200 करोड़ रुपये
जैसलमेर180 करोड़ रुपये
सिरोही170 करोड़ रुपये
बांसवाड़ा150 करोड़ रुपये
डूंगरपुर120 करोड़ रुपये
टोंक100 करोड़ रुपये

इसी प्रकार से केन्द्रीय सहकारी बैंक का ब्याज मुक्त सहकारी फसली ऋण देगा।

’राज्य के 25 लाख किसानों को मिलेगा 16 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण’ ’
वर्ष 2020-21 में खरीफ एवं रबी में वितरित होगा सहकारी फसली ऋण’

16 अप्रेल से खरीफ फसली ऋण वितरण होगा प्रारंभ

श्री आंजना ने बताया कि 10 हजार करोड़ रुपये खरीफ सीजन में तथा 6 हजार करोड़ रुपये रबी सीजन में वितरित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष किसानों को खरीफ फसली ऋण के तहत 25 प्रतिशत तक फसली ऋण बढ़ाकर दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष भी 3 लाख नए किसानों को फसली ऋण से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत कोरोना महामारी के दौरान लाकडाउन के चलते किसानों को उनके कृषि कार्यो मे कम से कम परेशानी हो इसके लिए उनके हित में निरन्तर फैसले ले रहे है।

सहकारिता मंत्री ने बताया कि केन्द्रीय सहकारी बैंकों द्वारा वितरित होने वाला अल्पकालीन फसली ऋण खरीफ सीजन में 1 अप्रेल से 31 अगस्त तक तथा रबी सीजन में 1 सितम्बर से 31 मार्च तक किसानों को वितरित किया जाता है। लेकिन इस बार कोरोना महामारी के चलते देश भर में 14 अप्रेल तक लाकडाउन होने के कारण ऋण वितरण 16 अप्रेल से प्रारंभ किया जायेगा।

क्र.सं.नाम प्राथमिक बैंकशाख की संख्‍यानाम शाखा
1अजमेर2अजमेर
2भीलवाडा6आसिन्द, माण्डलगढ , माण्डल, गंगापुर, शाहपुरा , भीलवाडा (सुवाना)
3केकडी1भिनाय
4टोंक6निवाई, उनीयारा, टोडारायसिह, मालपुरा , टोंक, देवली
5नागौर5डेगाना, परबतसर ,डीडवाना, नागौर, नांवा
6अलवर5अलवर, रामगढ़, बहरोड़, लक्षमणगढ़,खैरथल
7भरतपुर7भरतपुर, कुम्हेर, नगर, डीग ,बयाना, नदबई, रूपवास
8धौलपुर4धौलपुर,बारी,बसेडी, राजाखेडा
9हिण्डौन3करोली, सपोटरा ,हिण्डौन
10सवाईमाधोपुर4गंगापुर,सवाईमाधोपुर, बौंली, खण्डार
11बीकानेर2नोखा, बीकानेर
12चुरु3चूरू,राजगढ,सुजानगढ
13हनुमानगढ2हनुमानगढ, नोहर
14रायसिंहनगर2रायिसंहनगर, अनूपगढ
15श्रीगंगानगर
16जयपुर6जयपुर,सॉभर,चौमू, शाहपुरा ,चाकसू, फागी
17झुंझुनू3झुंझुनू,चिड़ावा,नवलगढ
18सीकर6सीकर,लक्ष्मणगढ,श्रीमाधोपुर,पीपराली, नीम का थाना, दॉतारामगढ
19बालोतरा5बाड़मेर,सिवाना,धोरिमन्ना,बालोतरा,शिव
20बिलाडा
21जोधपुर2फलोदी ,बालेसर
22जालौर2सांचौर, भीनमाल
23पाली4जैतारन,फालना, सोजत,पाली
24सिरोही4सिरोही, पिण्डवाडा, रेवदर,आबूरोड़
25बारां6अंता ,अटरू ,छबड़ा ,भंवरगढ, छिपाबड़ोद व बारॉ
26बून्दी2बून्दी, नैनवा
27झालावाड5अकलेरा ,सुनेल, खानपुर ,चौमहला,झालरापाटन
28कोटा5लाडपुरा , सान्गोद ,इटावा ,रामगजमंडी ,सुल्तानपुर
29बॉसवाडा2बागीडोरा (मुख्‍यालय कलिंजरा), बॉसवाडा
30चित्तौडगढ8बेगू, नीम्बाहेड़ा, कपासन, बड़ीसादड़ी, चित्तौडगढ, भदेसर, रावतभाटा, राशमी
31डूँगरपुर1सिम्बलवाड़ा
32प्रतापगढ1प्रतापगढ
33उदयपुर3उदयपुर, सलूम्बर , गोगुन्दा
34दौसा5दौसा, महुआ, बान्दीकुई ,लालसोट, सिकराय
35राजसमन्द3राजसमन्द देवगढ व आमेट
36जैसलमेर1पोकरण

प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता श्री नरेश पाल गंगवार ने बताया कि फसली ऋण वितरण के दौरान यथासम्भव पैक्स/लैम्पस स्तर पर ही कार्य संपादित करने के निर्देश सीसीबी के प्रबंध निदेशकों को दे दिए गए है। इसी प्रकार सभी पैक्स/लैम्पस को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि बैंक शाखाओं एवं पैक्स/लैम्पस में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना की जाए। उन्होंने बताया कि 16 अप्रेल से वितरित हो रहे फसली ऋण के लिए 15 अप्रेल से ही सीबीएस एवं आईएफएस सिस्टम शुरू हो जाएगा।

अनाज/ कृषि मंडी List May 2020 समर्थन मूल्यCheck Here

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x